Students Speak

जन्माष्टमी

By प्रिया सोनी , VIII , H

जन्माष्टमी से तात्पर्य है जन्म +अष्टमी| इस दिन भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था| यह दिन भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष अष्टमी को मनाया जाता है| कृष्ण जी का जन्म कारावास में आधी रात को हुआ था| इस दिन भगवान ने धरती पर अवतार लिया था इसलिये सभी इसे बहुत बडे त्योहार के रूप में मनाते है| भारतवर्ष के सभी मंदिरो में बडी धूमधाम से जन्माष्टमी मनाई जाती है| मंदिरो को बहुत सजाया जाता है,सब हर्षौल्लास के साथ नाचते -गाते है| सुंदर -सुंदर झान्कीया बनाई जाती है,छोटे-छोटे बच्चे झान्कियो के द्वारा कृष्ण जी के जीवन की झल्कीया दिखाते है| रात को १२ बाजे मंदिरो में आरती होती है और फिर प्रसाद बाटा जाता है| जो लोग उस दिन उपवास करते हैं,वो उपवास खोलते हैं| कृष्ण जी के जन्मदिन की खुशी में सब झूम उठते हैं |

0

PapyrusClubs on Facebook

More From Delhi

Add this Newspaper to your Favourites list

Login or Register to add.